Home About us
Food Recipes
Vegetarian Recipes Non-Vegetarian Recipes Festivals Recipes Health & Fitness Recipes Fast (व्रत) Recipes Drinks & Soups Recipes Snacks Recipes Desserts Recipes Kids Recipes Party Recipes Picnic Recipes Pickles & Sauce Recipes Salad Recipes
Health & Fitness
Home Remedies Health & Beauty Tips Yoga Training & Poses Fitness & Nutrition Tips Weight Training & Exercises Health News Ingredient Benefits Vegetables and Fruits
Contact us
System Access
  Sign in/Sign up




5.0
5.0

Benefits Of Sugarcane And Their Juice(गन्ने व उसके रस से होने वाले लाभ)

By: Chitra Rani | Last Updated: Oct 07, 2019
1 Likes
846 Views
1 Comments

Download the VittoBox app now

Get it on Google Play

Benefits Of Sugarcane And Their Juice (गन्ने व उसके रस से होने वाले लाभ)

By: Chitra Rani | Last Updated: October 07, 2019

गन्ना एक मोटा, चिकनी, रेशेदार डंठल होता है जो चीनी सूक्रोज में समृद्ध होता है, जो डंठल अंतरों में जमा होता है। इसका पोधा दो से छह मीटर (6 से 20 फुट) लंबा होता है। गर्मियों में गन्ने का रस अमृत समान होता हे l यह गर्मियों का प्रमुख पेय है गन्ने को हमारी स्वदेशी चिकित्सा पद्धति “आयुर्वेद“ में श्रेष्ठ ओषधि माना गया है l आईये जानते है इनके कुछ लाभ के बारे मे:

  1. गन्ने के रस में विटामिन ए, बी, सी के साथ-साथ लोह-तत्व भी हमारे शरीर को प्रचुर मात्रा में मिलते है l
  2. दांतों से चबाते हुए गन्ने का रस चूसने से दांतों की जड़ें मजबूत होती है l हकीमों के अनुसार गन्ने का रस रक्तप्रवाह को गति प्रदान करते हुए, अवरोंधो को दूर करता है
  3. यह फेंफड़ो की रुझता को दूर करके तरावट पैदा करता  है l फलस्वरूप खांसी में लाभ देता है l
  4. इसके सेवन से लूज मोसन को सही करने में मदद करता है  l पेट की जलन शान्त होती है, अम्लपित का शमन होता है आयुर्वेदीय द्रष्टिकोण के अनुसार समस्त प्रकार की ईख रक्त –पित्तनाशक, चल कारक, वीर्य-वर्धक, कफ, जनक, रस एवं विपाक में मधुर, स्निग्ध, गुरु, मूत्र कारक होती है
  5. स्वास्थ्य के लिए दांतों से चूसा गया रस हितकारी होता है जितना हो सके गन्ने को दांतों से चबा कर खाना चाहिए इससे  दन्त भी अच्छे करने  रहते है और पेट के लिए फायेदेमंद होता है मशीन से निकला हुआ गन्ने का रस पचने में भारी होता है l
  6. भोजन से पहले गन्ने का रस पिने से पित्त का नाश करता है l भोजन के मध्य में इसके सेवन करने से शरीर में जड़ता आती है l तथा भोजन के बाद गन्ने का रस का सेवन करने से भोजन को आसानी से पचाने में सहायक होता है l
  7. गन्ने के रस को और सुपाच्य बनाने के लिए आप उसमे पुदीने की कुछ हरी पत्तियां व नीबू का रस भी मिला कर पी सकते है l
  8. गन्ने का रस गर्मियों में शरीर को ठंडक देने वाला पेय पदार्थ है l इसमें आपको चीनी मिलाने की जरूरत नही है इसमें पहले से ही प्रचुर मात्रा में चीनी होती है l
  9. पीने का सही तरीका –एक गिलास लीजिये l अब आप उस गिलास में दो क्यूब बर्फ के टुकड़े ,आधा नीबू का रस ,कुछ पुदीने की पत्तियों का रस ,और चुटकी भर काला नमक गिलास में मिलाएं और फिर गिलास में गन्ने का रस डालें ,और चम्मच से मिलाकर ठंडा –ठंडा पियें और पिलायें

 


Article Reviews
1 Comment(s)
No Data Found..!

गन्ना एक मोटा, चिकनी, रेशेदार डंठल होता है जो चीनी सूक्रोज में समृद्ध होता है, जो डंठल अंतरों में जमा होता है। इसका पोधा दो से छह मीटर (6 से 20 फुट) लंबा होता है। गर्मियों में गन्ने का रस अमृत समान होता हे l यह गर्मियों का प्रमुख पेय है गन्ने को हमारी स्वदेशी चिकित्सा पद्धति “आयुर्वेद“ में श्रेष्ठ ओषधि माना गया है l आईये जानते है इनके कुछ लाभ के बारे मे:

  1. गन्ने के रस में विटामिन ए, बी, सी के साथ-साथ लोह-तत्व भी हमारे शरीर को प्रचुर मात्रा में मिलते है l
  2. दांतों से चबाते हुए गन्ने का रस चूसने से दांतों की जड़ें मजबूत होती है l हकीमों के अनुसार गन्ने का रस रक्तप्रवाह को गति प्रदान करते हुए, अवरोंधो को दूर करता है
  3. यह फेंफड़ो की रुझता को दूर करके तरावट पैदा करता  है l फलस्वरूप खांसी में लाभ देता है l
  4. इसके सेवन से लूज मोसन को सही करने में मदद करता है  l पेट की जलन शान्त होती है, अम्लपित का शमन होता है आयुर्वेदीय द्रष्टिकोण के अनुसार समस्त प्रकार की ईख रक्त –पित्तनाशक, चल कारक, वीर्य-वर्धक, कफ, जनक, रस एवं विपाक में मधुर, स्निग्ध, गुरु, मूत्र कारक होती है
  5. स्वास्थ्य के लिए दांतों से चूसा गया रस हितकारी होता है जितना हो सके गन्ने को दांतों से चबा कर खाना चाहिए इससे  दन्त भी अच्छे करने  रहते है और पेट के लिए फायेदेमंद होता है मशीन से निकला हुआ गन्ने का रस पचने में भारी होता है l
  6. भोजन से पहले गन्ने का रस पिने से पित्त का नाश करता है l भोजन के मध्य में इसके सेवन करने से शरीर में जड़ता आती है l तथा भोजन के बाद गन्ने का रस का सेवन करने से भोजन को आसानी से पचाने में सहायक होता है l
  7. गन्ने के रस को और सुपाच्य बनाने के लिए आप उसमे पुदीने की कुछ हरी पत्तियां व नीबू का रस भी मिला कर पी सकते है l
  8. गन्ने का रस गर्मियों में शरीर को ठंडक देने वाला पेय पदार्थ है l इसमें आपको चीनी मिलाने की जरूरत नही है इसमें पहले से ही प्रचुर मात्रा में चीनी होती है l
  9. पीने का सही तरीका –एक गिलास लीजिये l अब आप उस गिलास में दो क्यूब बर्फ के टुकड़े ,आधा नीबू का रस ,कुछ पुदीने की पत्तियों का रस ,और चुटकी भर काला नमक गिलास में मिलाएं और फिर गिलास में गन्ने का रस डालें ,और चम्मच से मिलाकर ठंडा –ठंडा पियें और पिलायें

 


Article Reviews
1 Comment(s)
No Data Found..!
×
Benefits Of Sugarcane And Their Juice

Login To Account:


×

Write Comment/Review

Select Your Rating:
(Maximum 5000 characters)
Follow us on social media